राजस्‍थान में लाखों स्‍कूली बच्‍चों ने एक साथ देशभक्ति तराने गाकर बनाया ''रिकॉर्ड''

Edited By PTI News Agency, Updated: 12 Aug, 2022 03:24 PM

pti rajasthan story

जयपुर, 12 अगस्त (भाषा) राजस्थान में सभी छोटे-बड़े स्‍कूली मैदान व स्टेडियम शुक्रवार सुबह एक साथ देशभक्ति तरानों से गूंज उठे। अवसर था ''आजादी का अमृत महोत्सव'' अभियान के तहत देशभक्ति के गीत गाकर ''विश्व रिकॉर्ड'' बनाने का। अधिकारियों का कहना...

जयपुर, 12 अगस्त (भाषा) राजस्थान में सभी छोटे-बड़े स्‍कूली मैदान व स्टेडियम शुक्रवार सुबह एक साथ देशभक्ति तरानों से गूंज उठे। अवसर था 'आजादी का अमृत महोत्सव' अभियान के तहत देशभक्ति के गीत गाकर 'विश्व रिकॉर्ड' बनाने का। अधिकारियों का कहना है कि राज्‍य भर में लगभग एक करोड़ स्‍कूली बच्‍चों ने एक साथ देशभक्ति तराने गाकर यह रिकॉर्ड बनाया।

प्रांतीय राजधानी जयपुर के एसएमएस स्टेडियम में आयोजित राज्‍य स्‍तरीय कार्यक्रम में मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत भी शामिल हुए। उन्‍होंने छात्र-छात्राओं को उनकी इस उपलब्धि पर बधाई दी।

गहलोत ने इस अवसर पर कहा, "लंदन के प्रतिष्ठित संस्थान वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स ने एक करोड़ छात्रों द्वारा गाए गए गीतों को सुना और राज्य सरकार को एक प्रमाणपत्र द‍िया। मैं इस प्रमाणपत्र की भावना इस आयोजन में भाग लेने वाले सभी बच्चों को समर्पित करता हूं।''
सुबह 10.15 बजे देशभक्ति तरानों की शुरुआत वंदेमातरम से हुई। इसके बाद विद्यार्थियों ने 'सारे जहां से अच्‍छा हिंदुस्‍तान हमारा', 'आओ बच्‍चों तुम्‍हें दिखाएं झांकी हिंदुस्‍तान की', 'विजयी विश्व तिरंगा प्यारा' व 'हम होंगे कामयाब एक दिन' जैसे तराने गाए।

उन्होंने कहा कि देशभक्ति के गीत संविधान, भाईचारे और बलिदान की मूल भावना का प्रतिनिधित्व करते हैं। नई पीढ़ी को मूल्यों को अंगीकृत करना चाहिए क्योंकि वे देश का भविष्य हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार चाहती है कि राज्य विकास के पथ पर आगे बढ़े और समाज के सभी वर्ग शांति और भाईचारे के साथ रहें। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की सोच है कि जहां शांति और भाईचारा होता है वहीं विकास होता है।

गहलोत ने कहा कि जिस परिवार, गांव, राज्य या देश में झगड़ा होता है जहां शांत‍ि नहीं होती उसका विकास रुक जाता है।

एक अधिकारी ने बताया कि 'आजादी का अमृत महोत्सव' के तहत आयोजित कार्यक्रमों की श्रृंखला में इस प्रयास का लक्ष्‍य एक साथ एक करोड़ बच्चों की राष्ट्रभक्ति गीतों में भागीदारी करवाना था। उन्होंने कहा कि स्‍कूली विद्यार्थियों में देश प्रेम की भावना जाग्रत करने के उद्देश्य से राज्य के समस्त राजकीय एवं गैर राजकीय विद्यालयों में 12 अगस्त को सुबह 10:15 बजे एक ही समय एक साथ देशभक्ति गीतों का सामूहिक गायन करवाया गया।

राज्य स्तर पर कार्यक्रम जयपुर स्थित सवाई मानसिंह स्टेडियम में हुआ जबकि जिला स्तरीय कार्यक्रम जि‍ला मुख्‍यालयों पर हुए जहां संबंधित जिला प्रभारी मंत्री मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए। ब्लॉक स्तर पर ब्लॉक स्तरीय प्रशासन द्वारा सबसे बड़े स्टेडियम, सबसे बड़े विद्यालय के खेल मैदान में आयोजित करवाया गया तथा विद्यालय स्तरीय कार्यक्रम विद्यालय प्रांगण हुआ।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Related Story

Trending Topics

India

237/3

20.0

South Africa

52/3

7.2

South Africa need 186 runs to win from 12.4 overs

RR 11.85
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!