विश्व को ग्लोबल वार्मिंग जैसे कहर से बचाने के लिए दुनिया के सबसे बड़े मिशन पर हैं ये शख्स

Edited By Deepender Thakur, Updated: 22 Jun, 2022 11:00 PM

sandeep choudhary world s biggest mission to save earth

राजस्थान के झुंझुनू जिले के इस लाल ने उठा लिया है बीड़ा विश्व को ग्लोबल वार्मिंग जैसे कहर से बचाने का,

टीम डिजिटल। राजस्थान के झुंझुनू जिले के इस लाल ने उठा लिया है बीड़ा विश्व को ग्लोबल वार्मिंग जैसे कहर से बचाने का, साधारण किसान परिवार में जन्मे संदीप चौधरी ने जन्म से ही बड़े सपने देखे थे और जीवन में हर प्रकार की चुनौतियो का सामना करते हुए  हमेशा अपने सपनों को पूरा करने का सोचा है।


जब वह जयपुर आए तो उन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में कोशिश की और अपने जीवन में बहुत उतार-चढ़ाव का सामना किया लेकिन कोई भी कठिनाई उन्हें अपने लक्ष्य से नहीं हटा सकी। उन्होंने आईटी क्षेत्र में अपने करियर की कोशिश की, फिर कुछ समय बाद एक इलेक्ट्रिक शोरूम खोला, फिर फिल्म उद्योग और उसके बाद शेयर ट्रेडिंग और अंत में उन्होंने हमारे ग्रह पृथ्वी को बचाने के इस दुनिया के सबसे बड़े मिशन के लिए 50 मिलियन डॉलर की कंपनी अपने फिन-टेक स्टार्टअप बैंक साथी टेक्नोलॉजीज को छोड़ दिया अब वह राष्ट्र के सच्चे पर्यावरण के लिए काम कर रहे है, 


वह हाल ही में इन्फ्लेक्टर इंडिया के सह-संस्थापक हैं जो पर्यावरण को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए काम कर रहे हैं वह एक सुंदर और प्यारे दिल वाले एक ईमानदार आदमी है जो दूसरों की भावनाओं को समझते हैं और कभी भी किसी भी तरह से जरूरतमंदों की मदद करने के लिए पीछे नहीं हटते है।

संदीप चौधरी ने जीवन में कई प्रकार की ऊंच नीच को झेलते हुए अपने लक्ष्य को भेदा है चौधरी का मिशन मामुली नहीं है ये अर्जुन के उस लक्ष्य की तरह है जो तेल में देख कर मछली की आंख को अपने बाण से मार कर भेद लिया था  संदीप चौधरी से बात करने पर पता चला की इस विश्व के सबसे बड़े मिशन को अपनी जिम्मेदारी समझते हुए अपने परिवार की जिमेदारी से ऊपर समझा है संदीप चौधरी को कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कारों से नवाजा गया है हाल ही में इन्हे हिंदुस्तान के सबसे बड़े अवार्ड सख्सियत अवार्ड से माननीय महामहिम राज्यपाल ओडिशा दवारा नवाजा गया 5 जून को अंतर्राष्ट्रीय पर्यावरण दिवस पर ग्लोबल बिज़नेस अवार्ड से दिल्ली में नवाजा गया 


एस्ट्रोनॉड्स दवारा पहने जाने वाले स्पेस सूट को नासा के माध्यम से पहली बार रेडिएंट हीट बैरियर विकसित और डिज़ाइन किया गया इसे 'इन्फ्लेक्टर' कहते हैं वैज्ञानिकों के अनुसार, अत्यधिक ग्लोबल वार्मिंग कारण वर्ष 2040 तक हमारी पृथ्वी  नष्ट हो जाएगी इसलिए संदीप चौधरी इस प्रोडक्ट के साथ निकल पड़े है विश्व को इस कहर से बचाने के लिए इस चमत्कारी उत्पाद 'इन्फ्लेक्टर' के जरिए हम अपनी धरती को बचा सकते हैं। जी हां, धरती को बचाने के लिए दुनिया के इस सबसे बड़े आंदोलन में यस फाउंडेशन (Yes Foundation) भी शामिल हुआ।


संदीप चौधरी ने बहुत कम उम्र में अपने देश में अपनी पहचान बना ली है इन्हें भारत के केई प्रदेशो के मुख्यमंत्रियो द्वारा सम्मानित किया गया है संदीप चौधरी भारत के एकमात्र व्यक्ति थे जिन्हें जापान के प्रतिनिधिमंडल द्वारा हमारे गतिशील और ईमानदार प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी से मिलने के लिए आमंत्रित किया गया था। उन्होंने एक देशभक्ति ड्रामा फुल-लेंथ फीचर फिल्म "ये है इंडिया" भी बनाई। ये है इंडिया फिल्म को भारत सरकार के सीआईआई निकाय द्वारा 70वें कान्स फिल्म फेस्टिवल में भी लिया गया और इसे खूब वाहवाही मिली।

Related Story

India

179/5

20.0

South Africa

131/10

19.1

India win by 48 runs

RR 8.95
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!