विश्व के सबसे बड़े मिशन पर निकले संदीप चौधरी ने राजस्थान के राज्यपाल से की शिष्टाचार भेंट

Edited By Deepender Thakur, Updated: 05 Jul, 2022 10:24 PM

sandeep choudhary visit to the governor of rajasthan

ग्लोबल वार्मिंग जैसे महत्वपूर्ण मुद्दे पर कार्य कर रहे संदीप चौधरी ने राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र जी से मुलाकात की और उन्हें अपने प्रोडक्ट इन्फ्लेक्टर इंडिया के बारे में जानकारी दी और इस बात पर प्रकाश डाला कि भारत में हर वर्ष 45000 करोड़  टन का...

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। ग्लोबल वार्मिंग जैसे महत्वपूर्ण मुद्दे पर कार्य कर रहे संदीप चौधरी ने राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र जी से मुलाकात की और उन्हें अपने प्रोडक्ट इन्फ्लेक्टर इंडिया के बारे में जानकारी दी और इस बात पर प्रकाश डाला कि भारत में हर वर्ष 45000 करोड़  टन का जो कार्बन जनरेट हो रहा है उसे किस प्रकार से कम किया जा सके और धरती को ग्लोबल वार्मिंग से बचाया जा सके इस बात पर राज्यपाल जी ने उनकी प्रशंसा की और उन्हें प्रोत्साहित किया।

राजस्थान के झुंझुनू जिले के संदीप चौधरी हाल ही में इन्फ्लेक्टर इंडिया के सह-संस्थापक हैं जो पर्यावरण को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए काम कर रहे हैं नासा द्वारा बनाए गए इंफ्लेक्टर के जरिए भारत में ग्लोबल वार्मिंग कम करने की मुहिम चलाई जा रही है. संदीप चौधरी को कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कारों से नवाजा गया है इन्हें भारत के केई प्रदेशो के मुख्यमंत्रियो द्वारा सम्मानित किया गया है संदीप चौधरी भारत के एकमात्र व्यक्ति थे जिन्हें जापान के प्रतिनिधिमंडल द्वारा हमारे गतिशील और ईमानदार प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी से मिलने के लिए आमंत्रित किया गया था। 

इन्फ्लेक्टर एक सोलर हीट बैरियर है, जिसको नासा ने बनाया है। 1960 में नासा ने अपोलो मिशन के दौरान एस्ट्रोनॉट्स के स्पेसशूट में सबसे पहले इन्फ्लेक्टर का उपयोग किया इसकी कामयाबी के बाद 90 के दशक में इसका कॉर्मशियल इस्तेमाल शुरू हुआ. और दुनिया के 60 से अधिक देश अलग-अलग तरीके से इन्फ्लेक्टर का इस्तेमाल करते हैं।

संदीप चौधरी की माने तो एक रिसर्च में यह बात निकल के आई थी कि 75 फीसदी सोलर हीट विंडो के जरिए आता है, इन्फ्लेक्टर को विंडो में लगाया जाता है और यह विंडो के जरिए अंदर आने वाली हीट को 70 से 80 फीसदी तक कम कर देता है  जिससे कार्बन की उत्पत्ति कम होगी और सर्दी के समय अगर इसे रिवर्स कर देते हैं तो सनलाइट को ऑब्जर्व करके इन्फ्लेक्टर रूम को गर्म रखता है. तो इस प्रकार से हम इन्फ्लेक्टर को बढ़ावा देकर कार्बन जनरेशन को कम करने के प्रयास में लगें है।

संदीप चौधरी ने कहा कि एक इन्फ्लेक्टर का इस्तेमाल आप 25 साल तक कर सकते हैं, और हम इसे भारत  में बाकी देशो के मुकाबले  कम दाम में उपलब्ध करवा रहे है इसका कारण ये है की भारत में इंफलेक्टर का उपयोग बढे और हम अपनी पृथवी को ग्लोबल वार्मिंग जैसे कहर से बचा सके।

Save Earth Activist संदीप चौधरी को 20 साल पुरानी पत्रिका शख्सियत ने कवर पेज पर लेकर इनके मिशन को पूरे हिंदुस्तान में फैलाने में इनकी मदद की है इसी कड़ी में आज संदीप चौधरी की महामहिम राज्यपाल श्री कलराज मिश्र जी से मुलाकात हुई और उन्हें शख्सियत पत्रिका की प्रति भेंट की राज्यपाल कलराज मिश्र जी को जब संदीप चौधरी के मिशन के बारे में पता चला तो उन्होंने ग्लोबल वार्मिंग से बचाव हेतु  इस मुहीम की सराहना की और उन्होंने कहा की हमें प्रसन्नता है आप  इतने बड़े मिशन पर कार्य कर रहे है हम सभी अपने अपने  लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए निरंतर प्रयास करते है लेकिंग यह एक साधारण लक्ष्य नहीं है अगर हमने ग्लोबल वार्मिंग पर गंभीरता से विचार नहीं किया तो इसका परिणाम भयावह हो सकता है इसके लिए हम सबको मिल कर कार्य करना है और इस मुहीम को जन जन तक पहुंचना है राज्यपाल श्री कलराज मिश्र ने बहुत प्रसन्नता जाहिर की और उन्हें बहुत प्रोत्साहित किया और अपने आशीर्वाद से अनुग्रहित किया।

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!